मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पानागढ़ के उद्योग विभाग कार्यक्रम में पहुंची

0
269

रानीगंज -दुर्गापुर से सड़क मार्ग होते हुए राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पानागढ़ के उद्योग विभाग कार्यक्रम में पहुंची। जहां 400 करोड रुपए की लागत से तैयार हो रहे बेसरकारी कारखाने का मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया। हालांकि सुबह से ही पानागढ़ उद्योग विभाग सभा मंच के पास अस्थाई हेलीपैड की प्रस्तुति ली गई थी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जहां कारखाने का शिलान्यास की वही 1 सितंबर पुलिस डे के उपलक्ष पर पुलिस कर्मियों के साथ इस दिन का पालन किया। वही उद्योगपतियों के साथ सभा मंच में मुख्यमंत्री ने बैठक भी की। मुख्यमंत्री के अलावा मंच में मंत्री सहित कई अधिकारी मौजूद थे। सभा में पश्चिम बर्दवान जिला के विधायक भी मौजूद थे। बुधवार कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पानागढ़ इंडस्ट्रियल पार्क मैं एक बे सरकारी कारखाना के उद्घाटन सहित योजनाओं की वर्चुअल घोषणा की।
मुख्यमंत्री ने जिन योजनाओं की घोषणा की है वह योजनाएं हम आपको बता रहे हैं
1-ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाया जाएगा इसके लिए डेढ़ सौ करोड़ का आवंटन किया गया है
ममता ने लघु पोल्ट्री उद्योग को प्रोत्साहन दिया। उन्होंने आगे कहा की मैंने विषम परिस्थितियों में भी गरीबी को 40 प्रतिशत तक कम किया है। जहां देश में रोजगार घट रहा है, वहीं राज्य में रोजगार में 40 फीसदी की वृद्धि हुई है.लक्ष्मी भंडार खाते के लिए बैंक की डेडलाइन बढ़ रही है।लक्ष्मी का भंडार खाता खोलने की बैंक की समय सीमा बढ़ाई जा रही है।  बैंक शाम 5 बजे तक खुला रहेगा। प्रदेश में डाटा सेंटर उद्योग सृजित किए जाएंगे।  नई डेटा उद्योग नीति में, राज्य का नया लक्ष्य बंगाल को सूचना प्रबंधन और संग्रह के केंद्र के रूप में बनाना है।  ताकि बंगाली पूर्वी भारत के साथ-साथ बांग्लादेश, नेपाल और भूटान की सूचना संबंधी जरूरतों को पूरा कर सके।  राज्य सरकार डाटा सेंटरों की हर संभव मदद करेगी।  स्वीकृति से शुरू होने वाले साधारण प्रमाण पत्र प्राप्त करने में भी सहायता प्रदान की जाएगी।  उन्होंने कहा, “हमें अगले पांच वर्षों में बंगाल में 400 मेगावाट का डेटा सेंटर बनाने की उम्मीद है।”  सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में 24 हजार नौकरियां होंगी।पुलिस कर्मियों का मजाक नहीं उड़ाया जाना चाहिए पुलिस दिवस पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी.  उन्होंने कहा, “वे लोग पुलिस कर्मियों का मज़ाक उड़ा रहे हैं जिनमें हास्य की अच्छी समझ नही है।”  ऐसा करना गलत है।  पूरी पुलिस बल को बदनाम नहीं किया जाना चाहिए।”

इस दौरान राज्य के कानून मंत्री मलय घटक, जिला शासक एस अरुण प्रसाद, पुलिस कमिश्नर एन सुधीर कुमार एडीडीए चेयरमैन तापस बनर्जी, विधायक नरेंद्रनाथ चक्रवर्ती आसनसोल नगर निगम के चेयरपर्सन अमरनाथ चटर्जी, आईएनटीटीयूसी जिला अध्यक्ष अभिजीत घटक समेत जिले के अन्य विधायक एवं नेतागण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here